झाबुआ/थांदला विधान सभा क्षेत्र के विधायक श्री भूरिया द्वारा ग्राम माण्डली में "आपकी सरकार आपके द्वार" योजना के तहत आयोजित विकास खण्डस्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का शुभारंभ


   



 थांदला विधान सभा क्षेत्र के विधायक श्री वीरसिंह भूरिया ने शुक्रवार को "आपकी सरकार आपके द्वार" योजना के तहत मेघनगर विकासखण्ड के ग्राम माण्डली में आयोजित विकास खण्ड स्तरीय जनसमस्या निवारण षिविर का मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने की।
    कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री भूरिया ने ग्रामीगों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य शासन की मंशा है कि ग्राम वासियो को अपनी समस्याओ को निराकरण के लिये जिला मुख्यालय तथा जनपद पंचायत मुख्यालय पर चक्कर न लगाना पडे। आपकी सरकार आपके द्वार योजना के तहत जन समस्या निवारण शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों के माध्यम से ग्रामीणो की समस्यओ का समाधान हो सके और शासकीय योजनाओ का लाभ मिल सके। श्री भूरिया ने कहा कि राज्य शासन द्वारा किसानो का कर्ज माफी किया गया है। पात्रता रखने वाले किसानों को इस योजना का लाभ अवश्य मिलेगा। श्री भूरिया ने आगे कहा कि ग्रामीणजन जागरूक होकर शासन की योजनाओ का लाभ ले और अपना जीवन स्तर ऊंचा उठाएं। श्री भूरिया ने कहा कि श्शासन की योजनाओ और कार्यक्रमो का और अधिक प्रचार-प्रसार करने की आवश्यकता है, ताकि जरूरतमंद व्यक्तियों तक इन योजनाओ की जानकारी पहुच सके।
     श्री भूरिया ने ग्रामीणो से कहा कि वे समाज को सुधारने के लिये जागरूक होकर आगे आएं। श्री भूरिया ने कहा कि शासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य, शिक्षा, सडक, पानी जैसी अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। जन प्रतिनिधि तथा आम जनता शासकीय योजनाओ का क्रियान्वयन पर कडी नजर रखें ताकि योजनाओ का क्रियान्वयन बेहतर ढंग से हो सके। साथ ही ग्रामीणजन कडी मेहनत करके उन्नती करें और अपनी आर्थिक स्थिति को और अधिक सुदृढ करें।
     श्री भूरिया ने कहा कि शासन द्वारा मदद योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इस योजना के तहत बच्चे का जन्म होने पर 50 कि.ग्रा. तथा मृत्यु भोज के लिए 1 क्विंटल खाद्यान्न तथा पंचायत को बर्तन के लिये 25 हजार रूपये प्रदाय किये जाते है।
     कलेक्टर श्री सिपाहा ने कहा कि इस जिले के लोग काफी मेहनती और अनुशासित है। इनके लिए गहन चिंतन करने की आवश्यकता है। कृषि विभाग तथा उद्यानिकी विभाग द्वारा किसानो के हित के लिए कई अनुदान योजनाएं चलाई जा रही है। इन योजनाओं का लाभ लेकर किसान आत्मनिर्भर बने। ग्रामीणजन कृषि के साथ-साथ उद्यानिकी तथा पशुपालन करेगें तो उनकी आर्थिक स्थिति में बदलाव आएगा।  श्री सिपाहा ने कहा कि संतरा उत्पादन के मामले में नागपुर प्रसिद्ध था, अब शाजापुर तथा देवास जिले के कुछ हिस्सों में संतरे की खेती की जा रही है जो कि नागपुर को संतरा उत्पादन में पीछे छोड दिया है। श्री सिपाहा ने ग्रामीणों से कहा कि ग्राम पंचायत के सचिवों, जनपद पचायतों तथा शिविरों के माध्यम से योजनाओ की जानकारी प्राप्त करे और योजनाओ का लाभ लेकर अपनी माली हालत में सुधार करें। श्री सिपाहा ने अपेक्षा करते हुए कहा कि ग्रामीणजन अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए पंजीयन केन्द्र पर जा कर आवेदन पंजीयन करावेगे। हमारी टीम समस्याओ के निराकरण के लिए हर सम्भव प्रयास करेंगी।
     पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन ने कहा कि जिले में अपराधो की कमी हुई है, यहां के लोगो का गुजरात के विकास में अहम भूमिका रही है। ग्रामीणजनो की कुछ बुरी आदतें हैं, उन बुरी आदतों को छोडने की आवश्यकता है। विवाह में व्यर्थ दिखावा करके अधिक खर्चा किया जाता है। इन खर्चो को कम करना चाहिए। जिससे उनकी आर्थिक सम्पनता में वृद्वि होगी। बाल विवाह की रोकथाम के लिए ग्रामीणजन को आगे आना चाहिए। कन्याओ का विवाह 18 वर्ष के बाद किया जाना चाहिए। ग्रामीणजन शराब का सेवन नहीं करें। इसका उपयोग करने से अपराध बडते है। मुख्य अतिथि श्री भूरिया, कलेक्टर श्री सिपाहा ने मदद योजना के तहत 4 हितग्राहियों को 1-1 क्विंटल खाद्यान्न मृत्यु भोज के लिए वितरित किया। इस शिविर में विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियो द्वारा अपने-अपने विभाग की योजनाओ की जानकारी दी गई। इस शिविर में 183 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिनमें से 50 आवेदन पत्रो का शिविर स्थल पर ही त्वरित निराकरण किया गया।
      इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री पराग जैन, मुख्य कार्यपालन अधिकार जनपद पंचायत श्री वीरेन्द्र सिंह रावत, विभिन्न विभागो के जिला अधिकारी तथा खण्ड स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि, पत्रकारगण तथा बडी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी श्री मोहन डामोर ने किया तथा आभार श्री नवल सिंह ने व्यक्त किया। इस के पूर्व विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियो के 5-5 सदस्यो के 17 समूह द्वारा आवंटित वार्ड में भ्रमण कर श्शासन की योजनाओं की जानकारी ग्रामीणो को दी और वहां की समस्याओ का आकनल किया। साथ ही आंगनवाडी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र तथा विद्यालयक का भी निरीक्षण किया। 
     कलेक्टर श्री सिपाहा ने ग्राम रामपुरा के रामपुरी फलिया में स्थित प्राथमिक विद्यालय, आंगनवाडी केन्द्र का अवलोकन किया। इस दौरान माध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत बन रहे भोजन का परिक्षण भी किया। 


Popular posts