भोपाल / कमिश्नर ने किया राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान की कम्प्यूटरीकृत लाइब्रेरी का उद्घाटन

    राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान के नवनिर्मित बुक बैंक थ्योरी का गत दिवस कमिश्नर भोपाल संभाग श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव ने उद्घाटन किया।  लाइब्रेरी में डिजाइन एंड आर्ट, कल्चर, हिस्ट्री, फिक्शन आदि से संबंधित पुस्तकों का अच्छे से संग्रह किया गया  है। पुस्तकालय को छात्रों और शिक्षकों के उपयोग के लिए अत्याधुनिक नवीनतम उपकरणों से सुसज्जित किया गया है। श्रीमती श्रीवास्तव ने लाइब्रेरी की व्यवस्थाओं की सराहना भी की।

    इस  दौरान कमिश्नर श्रीमती श्रीवास्तव ने छात्रों और कर्मचारियों से कहा कि यह पुस्तकालय भोपाल की स्टेट ऑफ़ आर्ट पुस्तकालय है।  उन्होंने सौंदर्यपूर्ण तरीके से बनाए गए परिसर की सराहना की।  एनआईडी के छात्रों ने इच्छा व्यक्त की,कि यदि उन्हें अवसर दिया जाए तो वे कैंपस के बाहर भी ग्रीन ड्राइव में योगदान करने  के लिए तैयार है। शिक्षकों ने भी भोपाल को अपने अभिनव विचारों के साथ संस्कृति और विरासत का एक केंद्र बनाने  की पेशकश की। छात्रों एवं शिक्षकों के सुझावों का कमिश्नर  ने स्वागत किया एवं भोपाल की सांस्कृतिक विरासत और हरियाली को संरक्षित और संवर्धित करने के सुझावों के प्रस्तावों को अमल मे लाने की बात भी कही।

    कमिश्नर श्रीमती श्रीवास्तव ने एनआईडी मध्य प्रदेश की कार्यशालाओं, सभागार और परिसर के अन्य हिस्सों का का भी जायजा लिया और निदेशक ने वर्तमान में चल रही गतिविधियों की स्थिति के बारे में उन्हें जानकारी दी। उन्होंने पौधारोपण करके ग्रीन ड्राइव में भी भाग लिया और परिसर को साफ और हरा-भरा रखने के लिए एनआईडी मध्य प्रदेश के सभी छात्रों और कर्मचारियों को बधाई दी। इस अवसर पर निदेशक एनआईडी मध्य प्रदेश  प्रो.  श्री धीरज कुमार ने कमिश्नर को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।
        लाइब्रेरी के बारे में कमिश्नर को जानकारी देते हुए लाइब्रेरियन डॉ. सुदीप शर्मा  ने बताया कि लाइब्रेरी पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत है, इसमें डिज़ाइन और प्रौद्योगिकी के सभी विषयों के लिए पुस्तकों के  साथ- साथ ई-बुक, ई-जर्नल और इलेक्ट्रॉनिक डाटा बेस का अच्छा संग्रह किया गया है।  पुस्तकालय द्वारा प्रदान की जाने वाली सारी सेवाएं आईटी के माध्यम से प्रदान की जाती है, जैसे एस.डी.आई. सेवा, डिस्कवरी एवं रिमोट एक्सेस की सेवा भी प्रदान की जाती है।  प्रो. धीरज कुमार ने संस्थान के मिशन के बारे में बताया और भविष्य में रोड शो, उद्योगों के साथ साझेदारी और राज्य में डिजाइन शिक्षा के साथ औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के लिए  सुझाव दिये।


Popular posts