नर्मदा नदी के सौंदर्यीकरण और घाटों के विकास से पर्यटन को बढावा मिलेगा : प्रभारी मंत्री श्री तरूण भनोत डिंडौरी में शॉपिंग एवं स्पोर्ट कॉम्पलेक्स के निर्माण से बनेंगे रोजगार के अवसर: मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम, प्रभारी मंत्री श्री तरूण भनोत ने ली शहपुरा में जिला योजना समिति की बैठक

  जिले के प्रभारी मंत्री एवं प्रदेश शासन के मंत्री श्री तरूण भनोत वित्त, आर्थिक एवं सांख्यिकी, ने कहा कि डिंडौरी नगर के बीचोबीच प्रभावित होने वाली नर्मदा नदी के घाटों का विकास एवं सौंदर्यीकरण किया जायेगा, इससे पर्यटन को बढावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी के स्वरूप में बिना परिर्वतन किए प्राकृतिक सुंदरता के साथ घाटों का विकास किया जायेगा। नर्मदा नदी के घाटों में स्वच्छता, सुरक्षा वाहन पार्किंग एवं श्रद्धालुओं को घूमने के लिए मार्गो का भी निर्माण किया जायेगा। प्रभारी मंत्री श्री तरूण भनोत बुधवार को शहपुरा में आयोजित जिला योजना समिति की बैठक में विभागीय योजनाओं एवं निर्माण कार्यो की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम आदिम जाति कल्याण, विमुक्त घुमक्कड एवं अर्धघुमक्कड जनजाति कार्य विभाग, विधायक श्री भूपेन्द्र सिंह मरावी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री ज्योतिप्रकाश धुर्वे, जिला पंचायत सदस्य श्री गणेश सोनवानी, श्री चंद्रकला परस्ते, श्रीमति उषा ठाकुर, जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री विरेन्द्र बिहारी शुक्ला, कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन, पुलिस अधीक्षक श्री एम.एल. सोलंकी, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्री एम.एल. वर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह, एसडीएम शहपुरा श्री ऋषभ जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.के. मेहरा, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग डॉ. अमर सिंह उईके, जिला समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान श्री राघवेन्द्र मिश्रा, सहायक संचालक पिछड़ावर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग सुश्री दिव्या राय सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।
    प्रभारी मंत्री श्री भनोत ने कहा कि नर्मदा नदी का सौंदर्यीकरण, घाटो का निर्माण एवं पार्किंग व्यवस्था सहित सभी निर्माण कार्यों के लिए 227 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। प्रस्तावित कार्य के तहत नर्मदा मंदिर डेम घाट से नर्मदा पुल तक, नर्मदा पुल से इमली कुटी स्टॉप डेम तक, नर्मदा मंदिर डेम घाट से नर्मदा पुल तक घाटों का निर्माण किया जायेगा। जोगीटिकरिया क्षेत्र में घाटों का विकास, पिकनिक स्थल का निर्माण, पार्किंग व्यवस्था और उच्च स्तरीय प्रकाश एवं पेयजल की व्यवस्था भी की जायेगी। आयोजित बैठक में मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने कहा कि कोदो-कुटकी अनाज डिंडौरी जिले की प्रमुख फसल है। कोदो-कुटकी अनाज को मार्केटिंग मिले इसके लिए व्यापक स्तर पर कार्य किया जायेगा। इससे कोदो-कुटकी अनाज को वृहद स्तर पर पहचान मिलेगी और लोगों को रोजगार उलब्ध होगा। इससे उनकी आय में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए 2 करोड़ 12 लाख का प्रावधान किया गया है। जिले में कोदो-कुटकी प्रसंस्करण ईकाई की स्थापना, गोंडी पेंटिंग विकास संस्थान, हथकरघा गतिविधि विकास हेतु कार्य किये जायेंगे।
    मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने कहा कि डिंडौरी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पक्की सडक का निर्माण कर उन्हें मुख्यमार्ग से जोडा जायेगा। उन्होंने कहा कि डिंडौरी जिले में करंजिया, चौरादादर, गोपालपुर, चाडा, गौराकन्हारी होते हुए मण्डला जिले का मवई तक पक्की सडक बनाई जायेगी। इससे आवागमन में सुविधा होगी और डिंडौरी जिले के दूर-सुदूर के गांव मुख्य मार्ग से जुड जायेंगे। मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने कहा कि नगर पंचायत डिंडौरी में शॉपिंग कॉम्पलेक्स का निर्माण किया जायेगा। इससे नगर पंचायत की आय में वृद्धि होगी और लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने नगर पंचायत के सौंदर्यीकरण के संबंध में कहा कि नगर पंचायत डिंडौरी में वार्ड क्रं. 11 में स्थित तालाब का सौंदर्यीकरण किया जायेगा, बाउंड्रीवॉल, पेवर ब्लाक, साफ-सफाई और जल संरक्षण के कार्य किए जायेंगे। इससे डिंडौरी जिला पर्यटन के रूप में विकसित होगा। मंत्री श्री ओमकार सिंह मरकाम ने कहा कि जिला चिकित्सालय डिंडौरी की मरम्मत प्लॉस्टर, टॉयलेट, पेवर ब्लाक, टाईल्स, खिडकियों में मच्छर जाली सहित सभी सुविधाएं दुरूस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय डिंडौरी में आने वाले मरीजों को किसी भी प्रकार की कठिनाई नहीं होगी और उनका समुचित उपचार किया जायेगा।
    मंत्री श्री मरकाम ने कहा कि डिंडौरी जिले के युवाओं को जिले में ही रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। इसके लिए वन विभाग द्वारा युवाओं को बढईगिरी का प्रशिक्षण दिया जायेगा। युवाओं के प्रशिक्षण के लिए 1 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। जिले के युवा बढईगिरी से अपनी आय में वृद्धि कर सकेंगे और उन्हें जिले में ही रोजगार उपलब्ध होगा। जिला योजना समिति की बैठक में इसी प्रकार से 11वीं एवं 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए NEET एवं JEE के परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग व्यवस्था, नगर परिषद भवन शहपुरा का निर्माण कार्य एवं वार्ड क्रं. 03 शहपुरा में तालाब सौंदर्य करण, डिंडौरी नगर पंचायत मुख्यमार्ग का उन्नयन कार्य, डिंडौरी शहर में स्पोर्ट कॉम्पलेक्स का निर्माण, घुघवा फॉसिल पार्क के उन्नयन सहित जिले के विकास कार्यो पर समीक्षा की गई।


Popular posts