अशोकनगर /मलेरिया एडवोकेसी विषय पर मीडिया कार्यशाला सम्‍पन्‍न


       मलेरिया एडवोकेसी विषय पर मीडिया कार्यशाला का आयोजन शुक्रवार को मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी कार्यालय के सभाकक्ष में किया गया। इस कार्यशाला में मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉ.जे.आर‍.त्रिवेदिया,‍मलेरिया अधिकारी डॉ.दीपा गंगेले,जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एस.डी.एस.फुंकवाल सहित जिला मुख्‍यालय के प्रिंट एवं इलेक्‍ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
कार्यशाला में मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉ.त्रिवेदिया ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य विभाग द्वारा समय समय पर जो अभियान चलाये जाते है। उन अभियान का जन जन तक पहुचाने में मीडिया का महत्‍वपूर्ण योगदान रहता है। मीडिया के माध्‍यम से लोगों में जागरूकता पहुचती है। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग का अमला हमेशा स्‍वास्‍थ्‍य गतिविधियों को घर घर जाकर प्रेरित करता है। मीडिया के माध्‍यम से हमें जो भी जानकारी प्राप्‍त होती है। उन पर सतत कार्यवाही भी की जाती है।
कार्यशाला में जिला मलेरिया अधिकारी डॉ.दीपा गंगेले ने बताया कि अशोकनगर जिले के चारों ब्लॉक के 24 उपस्वास्थ्य केंद्र की 193 ग्रामों में 13 9700 मच्छरदानी का वितरण किया गया। वर्ष 2018 में जिले के अति मलेरिया प्रभावित ग्रामों विशेष सर्वे अभियान चलाकर बुखार रोगियों की जांच एवं उपचार कराया गया। वाहक जनित बीमारियों से बचाव हेतु मलेरिया जागरूकता रथ द्वारा माइकिंग द्वारा प्रचार कराया गया। जिले के चारों ब्लॉक में 04 खंड स्तरीय, 15 सेक्टर स्तरीय एवं 40 ग्राम पंचायत स्तरीय कार्यशाला के माध्यम से मलेरिया डेंगू के लिए ग्राम स्तर तक आमजन को जागरूक करने का अभियान चलाया गया। जिले के ग्राम स्तर तक मलेरिया एवं डेंगू की जागरूकता हेतु चारों विकासखंडों के 10 हाट बाजारों में मलेरिया डेंगू से बचाव हेतु माइकिंग द्वाराप्रचार-प्रसार एवं पंपलेट का वितरण करवाया गया। साथ ही लार्वा दिखाकर विनष्‍टीकरण की अपील की गई। शहरी एएनएम एवं आशाओं को रिओरियंटेशन कार्यक्रम के माध्यम से शहरी जनसंख्या को जागरूक करने के हेतु प्रेरित किया गया। साथ ही जन जागरूकता रैली के माध्यम से आमजन को डेंगू एवं मलेरिया के लिए जागरूक करने के लिए प्रचार प्रसार किए गए। अशोकनगर जिले के दो विकासखंडों के 2 उपस्वास्थ्य केंद्रों के 20 ग्रामों में डीडीटी कीटनाशक का छीडकाव दो चक्रों में देकर 20 ग्रामों को सुरक्षित किया गया। माह जुलाई 2019 एंटी डेंगू माह के रूप में मनाया गया। जिसमें चारों ब्लॉक के लगभग 40 स्कूलों में बच्चों को लार्वा दिखाकर मलेरिया डेंगू से बचाव की स्वास्थ्य शिक्षा दी गई। साथ ही डेगू रथ के माध्‍यम से लोगों को जागरूक किया गया। जिले के समस्त हॉस्टल अधीक्षकों को मच्छर जनित बीमारी से बचाव,जांच,उपचार का प्रशिक्षण देकर मलेरिया जांच हेतु आरडीटी किट्स प्रदान की गई। जिससे रोग नियंत्रण प्रभावी रूप से किया जा सके। शहरी क्षेत्र के समस्त हॉस्टलों में मलेरिया डेंगू जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कराये गये। अशोकनगर शहरी क्षेत्र के विभिन्न विद्यालयों में मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर विद्यार्थियों के माध्यम से उनके परिवारों तक मलेरिया एवं डेंगू से बचाव हेतु जागरूक किया गया।
वर्ष 2018 में जिले में 101390 मलेरिया की जांच की गई। जिसमें 345 मरीज मलेरिया के सकारात्मक पाए गए। वर्ष 2019 में 113578 लोगों की मलेरिया की जांच की गई। जिसमें से 206 मरीज मलेरिया के सकारात्‍मक पाए गए। साथ ही वर्ष 2018 में 48 मरीज डेंगू एवं 02 चिकुनगुनिया के सकारात्‍मक पाए गए थे। वर्ष 2019 में डेंगू के 04 मरीज एवं 03 चिकुनगुनिया के मरीज सकारात्‍मक पाये गये।



Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
जबलपुर / संतों के साथ मिली सरकार, कुंभ का सपना हुआ साकार नर्मदा गौ-कुंभ: राज्य सरकार के प्रयासों को विशिष्ट संतों की मिल रही सराहना, संतों ने कहा, सरकार का ये प्रयास पूरे देश के लिये अनुकरणीय
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image