इन्दौर/ जिले की प्रथम गौशाला का शुभारंभ "खुशियों की दास्ताँ" गृह एवं जेल मंत्री श्री बाला बच्चन ने किया उद्घाटन

  मुख्यमंत्री गौशाला योजना के अंतर्गत इंदौर जिले में कुल 12 गौ-शालाओं का निर्माण किया जा रहा। है इसमें से महू तहसील की ग्राम पंचायत मेण के अंतर्गत श्री कृष्ण गौशाला का निर्माण किया गया है। जिसका उद्घाटन मध्य प्रदेश राज्य सरकार के गृह एवं जेल मंत्री तथा इंदौर जिले के प्रभारी मंत्री श्री बाला बच्चन द्वारा किया गया।
    इस योजना का मुख्य उद्देश्य निराश्रित गोवंश को आश्रय प्रदान करना है। गौशाला में चारागाह, भूसा गोदाम , चारे तथा पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।
    इसके लिए गोवंश संवर्धन बोर्ड के द्वारा बीस रुपए प्रति गाय प्रतिदिन के मान से गौशाला को प्रदान किया जाता है। इसके द्वारा गायों के लिए चारे एवं सुदाना की व्यवस्था की जाती है। मुख्यमंत्री गौशाला योजना के अंतर्गत प्रत्येक गौशाला में 100 गायों को आश्रय देने की व्यवस्था है। उल्लेखनीय है कि गौशाला के पास ही 5 एकड़ भूमि पर चारागाह बनाने का प्रावधान भी है।


गायों की जियो टैगिंग की व्यवस्था

 


 


   इन गायों की जियो टैगिंग भी की जायेगी जिससे उनकी रियल टाइम मॉनिटरिंग की जा सके। एवं उनके स्वास्थ्य तथा वृद्धि पर नजर रखी जा सके।


महिलाओं के आर्थिक उत्थान के लिए मिलेगा मंच

  


 

 गौशाला में निराश्रित गोवंश को आश्रय देने के साथ-साथ गोमूत्र और गोबर से बनने वाले विभिन्न उत्पादों जैसे वर्मीकंपोस्ट, जैविक खाद ,कंडे, गोबर गैस, गोमूत्र अर्क गो कास्ट, साबुन, धूपबत्ती का भी उत्पादन किया जाएगा जिससे गांव वासियों को रोजगार प्राप्त होगा। इसके संचालन के लिए गांव के स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को प्रशिक्षण दिया गया है। जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नेहा मीना ने बताया कि कस्तूरबा ग्राम के सहयोग से महिलाओं को आवासीय प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। जिसका उद्देश्य महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है।


सरपंच की पहल- ड्रिप सिस्टम से गायों को मिलेगा पानी

 



   श्री कृष्ण गौशाला मैं सरपंच ने गायों के पानी की व्यवस्था के लिए ड्रिप सिस्टम अपनाया है। जिसके द्वारा लगातार पाइप के माध्यम से एक निश्चित मात्रा में  गायों तक पानी पहुंचता रहेगा। जिससे गायों के लिए निरंतर पानी की उपलब्धता सुनिश्चित होगी तथा पानी वेस्टेज भी नहीं होगा।


Popular posts