अपराध / पुलिस ने दो नकली पत्रकारों को पकड़ा, मेडिकल संचालक को ब्लैकमेल कर 50 हजार रुपए मांगे थे

अपराध / पुलिस ने दो नकली पत्रकारों को पकड़ा, मेडिकल संचालक को ब्लैकमेल कर 50 हजार रुपए मांगे थे के लिए इमेज परिणामइंदौर. पत्रकार बनकर मेडिकल स्टोर संचालक को ब्लैकमेल करने वाले दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने मेडिकल स्टोर बंद करवाने की धमकी देते हुए 50 हजार रुपए की मांग की थी। डरे संचालक ने उन्हें पांच हजार रुपए दे दिए और दोस्त को और रुपए लाने के लिए एटीएम पर भेजा। जहां दोस्त की सूझबूझ से पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। प्रारंभिक जांच में आरोपियों द्वारा कपल्स और बंगाली डॉक्टरों को भी ब्लैकमेल कर अवैध वसूली करने की जानकारी मिली है।
 
विजय नगर थाना प्रभारी ने बताया कि अपोलो हाॅस्पिटल के पास स्थित एक मेडिलक स्टोर पर दो युवक पत्रकार बनकर पहुंचे थे। उन्होंने संचालक से कहा कि यदि 50 हजार रुपए नहीं दिए तो तुम्हारा मेडिकल स्टोर बंद करवा देंगे। इसके पहले हमने कई दुकानों को बंद करवा दिया है। इस पर संचालक ने कहा कि उसके पास अभी इतने रुपए नहीं है। कुछ दिन में दे दूंगा। 


खुद को अधिमान्य पत्रकार बताते थे
गिरफ्त में आए आरोपियों ने अपना नाम इमरान खान निवासी खजराना और दूसरा आदित्य शर्मा बताया है। इन्होंने फरियादी को अधिमान्य पत्रकार होना बताया था। संचालक को धमकाकर पांच हजार रुपए ले लिए थे, जबकि 45 हजार रुपए बाद में देने की बात हुई थी। प्रारंभिक पूछताछ मंे कुछ बंगाली डॉक्टरों के नाम सामने आए हैं, जिन्हें ब्लैकमेल कर इन्होंने वसूली की है। इसके अलावा इनके मोबाइल पर कुछ ऐसी सामग्री मिली है, जिससे ऐसा प्रतीत हो रहा कि मेघदूत गार्डन के पास ये बैठकर यहां आने वाले कपल्स को ब्लैकमेल कर उगाही करते थे।


दो दिन से मेडिकल संचालक को कर रहे थे परेशान


मेडिकल संचालक ने बताया कि दो लोग नकली पत्रकार बनकर दो दिन से हमें धमका रहे थे। वे कह रहे थे कि आप अनलीगल सामग्री यहां बेच रहे हो। यदि हमें रुपए नहीं दिए तो हम तुम्हारी दुकान बंद करवा दूंगा। लाइसेंस निरस्त करवा देंगे। डीआईजी से शिकायत कर तुम्हें जेल भिजवा देंगे। इसके बाद आज वे हमारे पास रुपए लेने आए थे। इस पर मैंने उन्हें पांच हजार रुपए दिए। इस पर वे कहने लगे कि हमें पूरे 50 हजार रुपए चाहिए। इस पर मेरे साथी सूरज को मैंने एटीएम से रुपए लाने के लिए भेजा। इस पर वे पुलिस के पास पहुंच गए और उन्होंने पूरी बात उन्हें बता दी। मेडिलक संचालक नितिन जैन ने बताया कि तीन-चार महीने पहले ही मैंने मेडिकल स्टोर शुरू किया है। 


Popular posts
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
सितंबर तक आएगी कोरोना की वैक्सीन! जानें भारत समेत पूरी दुनिया का अपडेट।
Image
केवी में एडमिशन / केंद्रीय विद्यालय में कक्षा पहली में दाखिले की प्रक्रिया फरवरी से होगी शुरू
Image
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
शराब कारोबारियों के समूह संभालेंगे जिलों की सभी दुकानें; आबकारी नीति में बड़े संशोधन की तैयारी शुरू
Image