कैबिनेट / प्रभारी मंत्री कर सकेंगे प्रदेश के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का तबादला, सीएम बोलूे- जहां जरूरी हों, वहीं तबादले करें

  • प्रदेश में अभी 63 हजार से अधिक नियमित चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी

  • तबादलों के लिए अब मुख्यमंत्री समन्वय की मंजूरी जरूरी नहीं होगी

    mp kamalnath ठ ॠ  लिठ  ठ मॠ ठ  परिणामभोपाल. मप्र के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के तबादलों के लिए अब मुख्यमंत्री समन्वय की मंजूरी जरूरी नहीं होगी। प्रभारी मंत्री ही जिलों में उनके तबादले कर सकेंगे। गुरुवार काे कैबिनेट ने इस पर मुहर लगा दी। प्रदेश में अभी 63 हजार से अधिक नियमित चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं।


    बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने स्पष्ट कर दिया कि जहां जरूरी हों, वहीं तबादले करें। नियमित 63 हजार कर्मचारियों में दैवेभो समेत अन्य वर्ग के कर्मी शामिल नहीं हैं।




Popular posts
बड़वानी/1983 से अंचल के बहु कुष्ठ विकृति वाले मरीजों का आश्रय है आशाग्राम
Image
बुरहानपुर/प्रभारी मंत्री श्री सिलावट आज जिले में विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए
Image
उज्जैन/जल जीवन मिशन जल संरक्षण हेतु जल क्रान्ति अभियान
Image
छिन्दवाड़ा /मुख्यमंत्री श्री नाथ भरतादेव चंदनगांव में प्रदेश के पहले केन्द्रीकृत रसोईघर ''''अक्षय पात्र मेघा किचन'''' का मुख्य अतिथि के रूप में करेंगे भूमिपूजन, आगामी शिक्षण सत्र से जिले की शासकीय शालाओं के 15 हजार से अधिक, विद्यार्थियों को मिलेगा उत्तम गुणवत्ता का स्वादिष्ट मध्यान्ह भोजन
Image
"मध्यप्रदेश हाइब्रिड नवकरणीय ऊर्जा एवं एनर्जी स्टोरेज नीति" लागू करने का निर्णय इन्दिरा गाँधी समाजसेवा पुरस्कार की राशि एक लाख से बढ़ाकर 10 लाख करने का अनुसमर्थन, मंत्रि-परिषद के निर्णय
Image