बुरहानपुर/धुलकोट में आयोजित विशाल किसान सम्मेलन में मध्य प्रदेश शासन के तीन मंत्री एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री हुए शामिल द्वितीय चरण में 4 हजार 905 किसानों के खातो में 37 करोड़ 68 लाख 86 हजार 733 रूपये जमा हुए

आज ग्राम धुलकोट में जय किसान फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत भव्य किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसी बेला में किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के मंत्री श्री सचिन सुभाष यादव, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा जिला प्रभारी मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, नर्मदा घाटी विकास विभाग व पर्यटन विभाग के मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अरूण यादव शामिल हुए। अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई। तत्पश्चात अतिथियों का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर जिला कलेक्टर श्री राजेश कुमार कौल ने स्वागत उद्बोधन दिया तथा कार्यक्रम की रूपरेखा बताई।
    प्रदेश सरकार के किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के मंत्री श्री सचिन सुभाष यादव ने किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आज जो सौंगाते हमें मिलने जा रही है वे हमारे लिए मील का पत्थर साबित होगी। जिन्हें किसान फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत ऋण से मुक्ति मिलने वाली है उन्हें बधाई दी गई। उन्होंने कहा कि यह एक चुनौतीपूर्ण योजना है। इसलिए यह चरणबद्ध तरीके से हो रही है। इस योजना के प्रथम चरण में 11 हजार 989 किसानों को 71 करोड़ 67 लाख 63 हजार 211 रूपये से लाभान्वित किया गया है। अब इस योजना का द्वितीय चरण प्रारंभ किया जा रहा है। ऐसे किसान जिनका पूर्व चरण में कुछ समस्याओं के कारण ऋण माफ नहीं हो पाये थे उन्हें, जो पात्र किसान है दूसरे चरण में शामिल किया जायेगा।
    उन्होनें जैविक खेती को बढ़ावा देने, गौमाता संरक्षण, गौसेवा करने को प्रोत्साहित किया। इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए सरकार द्वारा गौशालाओं का निर्माण कार्य किया जा रहा है। धुलकोट निवासियों की मांग को मानते हुए कृषि मंत्री द्वारा आश्वासन दिया गया कि यदि नियम में आयेगा तो निश्चित रूप से धुलकोट में मण्डी स्थापित करेगे। हमारे द्वारा आदर्श मण्डी स्थापित करने की योजना चलाई जा रही हैं, जहाँ पर सारी व्यवस्थाएँ उपलब्ध होगी।
    प्रदेश सरकार के नर्मदा घाटी विकास विभाग व पर्यटन विभाग के मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल ने संबोधित करते हुए कहा कि, आदिवासी वर्ग के लिए सरकार द्वारा नवीन योजनाएं बनाई जा रही है। आदिवासी किसान हमारे साथ चले यही सरकार की मंशा है। उन्होनें भगोरिया त्यौहार की अग्रिम शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि पर्यटन के लिए स्थलों को विकसित करने एवं लोगों को पर्यटन से जोड़ने की शुरूआत माण्डू से हो चुकी है। बुरहानपुर जिले के पर्यटन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है पर्यटन विकसित होने से लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकेगे।
    प्रदेश सरकार के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा जिला प्रभारी मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि जय किसान फसल ऋण माफी योजना मध्य प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना है जो हमारे किसान भाई बहनों, अन्नदाताओं के लिए है। शेष रहे 3 हजार वन पट्टों की कार्यवाही आगामी 30 दिवस में पूर्ण करने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। स्वास्थ्य सुविधा हेतु 30 दिवस के अंदर एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाने की बात कही।
    इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अरूण यादव ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना की प्रशंसा की और कहा कि यह हमारे अन्नदाता को सक्षम एवं समृद्ध बनाने की मध्य प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना है।  इस कार्यक्रम को सफल बनाने में आप सभी की महती भूमिका रही है। कार्यक्रम को नेपानगर विधायक श्रीमती सुमित्रा कास्डेकर, बुरहानपुर विधायक श्री ठा.सुरेन्द्र सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगणों द्वारा संबोधन दिया गया।
    ग्राम धुलकोट में जय किसान फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत किसानों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि जय किसान फसल ऋण माफी योजना में प्रथम चरण में तहत किसानों को 11 हजार 989 किसानों का 71 करोड़ 67 लाख 63 हजार 211 रूपये से लाभान्वित किया गया है। द्वितीय चरण में 4 हजार 905 किसानों 37 करोड़ 68 लाख 86 हजार 733 रूपये से लाभान्वित किया गया है। इस प्रकार बुरहानपुर जिले के कुल 16 हजार 894 किसानों के 109 करोड़ 36 लाख 49 हजार 944 रूपये की राशि का ऋण माफ कर उन्हें लाभान्वित किया।
मंच से ऋण माफी प्रमाण पत्र देकर किसानों को किया सम्मानित
    जय किसान फसल ऋण माफी योजनान्तर्गत मंच से हितग्राहियों को सम्मानित किया गया, जिसमें अंबा के राजकुमार हादु 81,888/-रूपये, नानसिंग गुलसिंग 34,045/-रूपये, कुमार सिंग हुसैन 68,034/-रूपये और नरसिंग रामसिंग को 1 लाख 85 हजार 31 रूपये का ऋण माफी प्रमाण पत्र दिया गया। इसके साथ ही अन्य हितग्राहियों को भी प्रमाण पत्र वितरित किये गये।
मंच से किसान सम्मान प्रमाण पत्र देकर किसानों को किया सम्मानित
    किसान सम्मान पत्र इन्हें दिया गया जिनमें अंबा निवासी प्रेमसिंग भारसिंग को 60,414/-काशीराम फूलसिंग को 61,415/- कादरसिंग चमारसिंग 75,098/-रूपये, कमलसिंग किरत 66,330/-रूपये, तेजराम जस्सू 30,487/-रूपये, जयराम बिलोरसिंग 34,759/- जुवानसिंग सूरता 330,16/-रूपये और रामलाल कल्जया 40,500/-रूपये का किसान सम्मान प्रमाण पत्र प्रदाय किया गया। इसके साथ ही अन्य हितग्राहियों को भी प्रमाण पत्र वितरित किये गये।


Popular posts