छतरपुर / पीएचडी की फर्जी डिग्री होने के आरोप में यूनिवर्सिटी रजिस्ट्रार और एक असिस्टेंट प्रोफेसर निलंबित

महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के लिए इमेज नतीजेछतरपुर। महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार डा. पीके पटैरिया और नौगांव नवीन कॉलेज में पदस्थ असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. धर्मेश खरे को बुधवार को जारी एक आदेश में निलंबित कर दिया गया है। इन दोनों ने जोधपुर नेशनल यूनिवर्सिटी राजस्थान से पीएचडी की डिग्री हासिल की है। मप्र शासन उच्च शिक्षा विभाग के अवर सचिव संजीव कुमार जैन ने दोनों की पीएचडी डिग्री को फर्जी करार देते हुए निलंबन की कार्रवाई की है।


डॉ. पीके पटैरिया मूल रूप से रसायन विषय के सहायक प्राध्यापक हैं। उच्च शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश में लिखा गया है कि दोनों ही अधिकारियों ने फर्जी डिग्रियां हासिल की है। कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर शासन को भ्रमित किया गया है। साथ ही मप्र के कॉलेजों में पदस्थ होकर वेतन का लाभ प्राप्त करके शासन को हानि पहुंचाई है। रजिस्ट्रार महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी डॉ. पीके पटैरिया, और सहायक प्राध्यापक डॉ. धर्मेश त्रिपाठी का यह आचरण मप्र सिविल सेवा नियमों के विपरीत है। इस कारण दोनों ही अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। दोनों ही सहायक प्राध्यापकों को निलंबन अवधि के दौरान के लिए उच्च शिक्षा विभाग के क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक कार्यालय सागर में अटैच कर दिया गया है।


आदेश के खिलाफ जाएंगे हाइकोर्ट
इस संबंध में रजिस्ट्रार डॉ. पीके पटैरिया का कहना है कि इस कार्रवाई के दौरान उन्हें सुनवाई का कोई मौका नहीं दिया गया है। जोधपुर यूनिवर्सिटी की फर्जी पीएचडी की सूची में उनकी डिग्री शामिल ही नहीं है। कार्रवाई से पहले जोधपुर यूनिवर्सिटी से भी कोई रिकार्ड नहीं मांगा गया है। पूरी कार्रवाई एकतरफा है। डा. पटैरिया का कहना है कि वे शासन के इस आदेश को हाइकोर्ट में चुनौती देंगे।


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
जबलपुर / संतों के साथ मिली सरकार, कुंभ का सपना हुआ साकार नर्मदा गौ-कुंभ: राज्य सरकार के प्रयासों को विशिष्ट संतों की मिल रही सराहना, संतों ने कहा, सरकार का ये प्रयास पूरे देश के लिये अनुकरणीय
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image