जबलपुर / आस्था के साथ सुरक्षा और स्वच्छता की मिसाल बनेगा नर्मदा /नर्मदा गौ कुंभ के आयोजन समिति के श्री गौरव भनोत

  नर्मदा गौ कुंभ संत समागम 2020 भक्ति और आस्था के लिये तो अद्धितीय सिद्ध होगा ही साथ ही ये आयोजन अत्याधुनिक इंतजामों के लिये भी याद किया जायेगा। गीताधाम आश्रम के सामने  आयोजित होने वाले इस भव्य आयोजन के लिये मप्र सरकार के वित्त मंत्री तरुण भनोत के नेतृत्व में जिला प्रशासन, नगर निगम एवं स्मार्ट सिटी द्वारा कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिये हर लिहाज से बेहतर इंतजाम किये जा रहे हैं। इनमें से कई व्यवस्थायें इस श्रेणी की हैं,जो अब तक के अन्य किसी  कुंभ में देखने को नहीं मिलीं हैं।



जगह-जगह होंगे प्रसाधन के इंतजाम नर्मदा कुंभ में प्रसाधनों(टॉयलेट्स)का इंतजाम अत्याधुनिक ढंग से किया गया है। अभी  तक ऐसे आयोजनों में उपयोग किये जाने वाले प्रसाधन थोड़े समय में ही गंदगी से बजबजा जाते थे, लेकिन इस कुंभ में ऐसा नहीं होगा। कुंभ के कंट्रोल प्रभारी नगर निगम के अधिकारी शैलेंद्र मिश्रा ने बताया कि टॉयलेट्स के अपशिष्ट को रोज निकाला जायेगा और ट्रीटमेंट प्लांट में डंप किया जायेगा। वहां इसका ट्रीटमेंट होगा। इसके बाद ये पानी खेती आदि के लिये उपयोग किया जा सकेगा। इन प्रसाधनों की बनावट को भी बदला गया है। जिससे ये लोगों खासकर बुजुर्गों के लिये बहुत ही सुविधाजनक हो गये हैं। ये प्रसाधन साधु-संतों के आवास के निकट स्थापित किये गये हैं। इसके अलावा कुंभ में आने वाले आम लोगों के लिये भी अलग से प्रसाधनों का इंतजाम किया गया है।-



कैमरे रखेंगे सब पर नजर नर्मदा गौ कुंभ में सुरक्षा की दृष्टि से इंतजाम करने में कसर नहीं छोड़ी गयी है। रेतनाके से लेकर भटौली तक 100 सीसीटीवी लगाये जायेंगे। ये सीसीटीवी सीधे कुंभ परिसर में बने दो कंट्रोल रूम से जुड़े होंगे। जैसे ही किसी प्रकार की अप्रिय गतिविधि नजर आयेगी पुलिस बल को तत्काल खबर कर दी जायेगी। इसके अलावा श्रद्धालुओं को होने वाली दूसरी परेशानियों को दूर करने के लिये भी सीसीटीवी बहुत कारगर सिद्ध होंगे।
-


गौरव भनोत ने ली तैयारियों की जानकारी
    नर्मदा गौ कुंभ के आयोजन समिति के श्री गौरव भनोत ने आज दोपहर बाद कुंभ परिसर पहुंचकर तैयारियों की जानकारी ली। श्री भनोत ने यज्ञशालाओं और मंच का निर्माण देखा।   
-प्रतिदिन होंगी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां
-24 फरवरी को दोपहर 2 बजे निकाली जाने वाली पेशवाई में आदिवासी लोक नृत्यों से होगी।
25 फरवरी को शाम 8 बजे ओशीन बैण्ड एवं गायक मनीष अग्रवाल अपनी प्रस्तुतियां देंगे।
26 फरवरी को गायक मनीष चंचल तथा नृत्यांगना श्रीमती भैरवी विश्वरूप एवं श्रीमती मोहिनी मोघे की प्रस्तुतियां होंगी।
27 फरवरी को श्रीमती शालिनी खरे एवं श्रीमती मेघा पाण्डे नृत्य प्रस्तुत करेंगी और राजेश कपूर भी इस दिन गायन प्रस्तुत करेंगे।
28 फरवरी के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आकर्षण राजस्थान की श्रीमती ममता कुमारी के लोक नृत्य और सुश्री शहनाज अख्तर का गायन होगा।
29 फरवरी को दिल्ली की श्रीमती मालिनी अवस्थी और सुश्री संजु बघेल भजन प्रस्तुत करेंगी।
1 मार्च को श्रीमती उपासना उपाध्याय एवं श्री मोती शिवहरे द्वारा लोकनृत्य प्रस्तुत किये जायेंगे और मुंबई की श्रीमती रिचा शर्मा का गायन होगा।
2 मार्च को सुश्री नीलांगी कलन्तरे एवं सुश्री शैली धोपे का नृत्य होगा तथा पंजाब के हंसराज रघुवंशी गायन प्रस्तुत करेंगे।
3 मार्च की संध्या सुप्रसिद्ध गायक कलाकार कैलाश खरे अपनी खनकती आवाज में गायन प्रस्तुत करेंगे तथा कदम सांस्कृतिक कला केन्द्र के कृष्णकांत दीक्षित के नृत्यों की प्रस्तुति होगी।
-ये विभाग लगायेंगे प्रदर्शनी
    नर्मदा गौ कुंभ में सरकार के उन 10 विभागों की प्रदर्शनियां भी होंगी,जो प्रदूषण, बाल कल्याण, ऊर्जा और पर्यटन से सीधे जुड़े हैं। ये सभी विभाग अपने-अपने विभाग की योजनाओं और इनसे होने वाले लाभों को प्रदर्शनी में रखेंगे। इन विभागों में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, ऊर्जा विकास निगम, स्मार्ट सिटी, जिला पंचायत, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल, वन विभाग,जिला शिक्षा अधिकारी,महिला एवं बाल विकास अधिकारी सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया शामिल हैं। जिला व्यापार एवं उद्योग  केन्द्र ने सभी विभागों को 23 फरवरी की शाम  तक  अपना स्टॉल तैयार करने के निर्देश दिये हैं। 
-अनुपम आनंद के नौ दिन
    श्री मां नर्मदा गौ-कुंभ संत समागम 2020 का आयोजन 24 फरवरी 2020 से 3 मार्च 2020 तक गीताधाम, ग्वारीघाट परिसर में आयोजित किया जायेगा। श्रृद्धा,भक्ति, आस्था, उल्लास, उत्साह, सेवा और समर्पण से ओतप्रोत गौ कुंभ के नौ दिन अपने आप में अद्भुत होंगे। इन नौ दिनों में हर तरफ दिव्यता प्रकट होगी। प्रथम दिन 24 फरवरी को संतों की पेशवाई का कार्यक्रम होगा। दोपहर2 बजे से श्री नरसिंह मंदिर से गीताधाम तक कार्यक्रम का विस्तार दिखाई देगा। 25 फरवरी को अपरान्ह 2 बजे से उमाघाट से कार्यक्रम स्थल तक विभिन्न चरणों में मां नर्मदा पूजन, कन्या पूजन एवं कलश यात्रा संपन्न होगी। तृतीय दिवस 26 जनवरी से 3 मार्च तक प्रतिदिन सुबह 8 बजे से 12 बजे तक श्री नर्मदा महायज्ञ, महारुद्र यज्ञ एवं गोपुष्टि महायज्ञ के कार्यक्रम संपन्न होंगे। पूर्वान्ह् 11.30 बजे से 3 बजे तक श्रीमद् भागवत कथा प्रवक्ता आचार्य इंद्रेश उपाध्याय श्रीमद् भागवत कथा पर प्रवचन देंगे। प्रतिदिन पूर्वान्ह् 3 बजे से सायं 7 बजे तक संत समागम होगा। सायं 7 बजे से रात्रि 8 बजे तक महाआरती होगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतिदिन दो चरणों में संपन्न होंगे। प्रात: 9 बजे से अपरान्ह् 11 बजे तक एवं रात्रि 8 बजे से रात्रि 11 बजे तक।
आयोजन के अंतिम पड़ाव 3 मार्च को प्रात: 8बजे से रात्रि 8.30 बजे तक भगवान योगेश्वर पाटोत्सव, पूजन, महाआरती एवं छप्पन भोग के कार्यक्रम संपन्न होंगे। प्रात:9.30 बजे से 11.30 बजे तक संतों का शाही स्नान एवं दोपहर 12 से 1 बजे के बीच महायज्ञ की पूणार्हूति होगी।


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
जबलपुर / संतों के साथ मिली सरकार, कुंभ का सपना हुआ साकार नर्मदा गौ-कुंभ: राज्य सरकार के प्रयासों को विशिष्ट संतों की मिल रही सराहना, संतों ने कहा, सरकार का ये प्रयास पूरे देश के लिये अनुकरणीय
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image