मंत्रियों की संपत्ति, क्रिमिनल रिकाॅर्ड, शिक्षा पर रिपोर्ट जारी; मंत्रियों की औसत संपत्ति 8.96 करोड़ पहुंची, 2015 में थी 2.69 करोड़ रुपए

सबसे अमीर कैलाश गहलोत के लिए इमेज नतीजेकैबिनेट में सबसे अमीर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत/नई दिल्ली. दिल्ली की सत्ता में तीसरी बार आई आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल सहित सभी सात मंत्री पिछली सरकार में भी थे और फिर रिपीट हुए हैं। दिल्ली इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने इन मंत्रियों की संपत्ति, क्रिमिनल रिकाॅर्ड, शिक्षा पर रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 के कैबिनेट की औसत संपत्ति 8.96 करोड़ रुपए पहुंच गई है जो 2015 के कार्यकाल में 2.69 करोड़ रुपए थी। सात में से 5 मंत्री व उनकी पत्नी की संपत्ति मिला लें तो करोड़पति हैं जबकि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और गोपाल राय की संपत्ति क्रमश: 124% और 72% की वृद्धि के बावजूद ये अभी करोड़पति नहीं बने हैं। सबसे ज्यादा 196% संपत्ति वृद्धि मंत्री राजेंद्रपाल गौतम की हुई है जबकि मंत्री सत्येंद्र जैन की संपत्ति पांच साल में 44,684 रुपए कम हुई है।


सबसे अमीर कैलाश गहलोत, सीएम से सालाना ज्यादा कमाते हैं 3 मंत्री


रिपोर्ट के अनुसार कैबिनेट में सबसे अमीर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत हैं जिनकी संपत्ति 2015 के मुकाबले 37.45 करोड़ रुपए से बढ़कर 46.07 करोड़ रुपए पहुंच गई है। सबसे कम 90 लाख रुपए की संपत्ति मंत्री गोपाल राय के पास है जो 2015 में 52.39 लाख रुपए की थी। सालाना कमाई की बात करें तो कैलाश गहलोत 1.55 करोड़ रुपए हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के 12.56 लाख रुपए के मुकाबले उनके दो मंत्री राजेंद्र पाल गौतम सालाना 14.59 लाख रुपए और इमरान हुसैन 14.36 लाख रुपए सालाना कमाते हैं।




सात में से 6 मंत्री ग्रेजुएट या उससे ज्यादा पढ़े लिखे 


रिपोर्ट के अनुसार मनीष सिसोदिया के जर्नलिज्म में डिप्लोमा को छोड़कर बाकी सभी 6 मंत्री ग्रेजुएट या उससे अधिक पढ़े लिखे हैं। अरविंद केजरीवाल बी.टेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग, सत्येंद्र जैन बी. आर्किटेक्ट, इमरान हुसैन बैचलन इन बिजनेस स्टडीज, राजेंद्रपाल गौतम एलएलबी,  कैलाश गहलोत एलएलएम, गोपाल राय समाज शास्त्र में मास्टर डिग्री रखते हैं।


सात में से तीन पर गंभीर आपराधिक मामले 
रिपोर्ट के अनुसार 2015 में मुख्यमंत्री सहित 7 मंत्रियों में से 3 यानी 43% पर आपराधिक मामले दर्ज थे जो इस बार चार मंत्रियों ने शपथपत्र में आपराधिक मामलों की जानकारी दी है। पिछली बार गंभीर आपराधिक मामलों की श्रेणी में कोई जानकारी नहीं दी गई थी इस बार 3 मंत्रियों ने गंभीर आपराधिक मामलों की जानकारी दी है। अरविंदर केजरीवाल ने 13 केस, मनीष सिसोदिया ने 3 केस, गोपाल राय ने एक केस, सत्येंद्र जैन ने दो केस अपने-अपने शपथ पत्रों में दिखाए हैं।


सीएम केजरीवाल और राजेंद्रपाल गौतम की उम्र 51-51 साल


कैबिनेट के उम्र की बात करें तो भारी भरकम मंत्रालय वाले मंत्री सत्येंद्र जैन 55 साल के साथ सबसे उम्रदराज हैं। तो सबसे कम महज दो विभाग की जिम्मेदारी संभालने वाले इमरान हुसैन 38 साल के सबसे युवा मंत्री हैं। सीएम केजरीवाल और राजेंद्रपाल गौतम की उम्र 51-51 साल, गोपाल राय 44 साल, कैलाश गहलोत 45 साल के हैं।


 



Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
एमपी में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 60 हजार बिस्तर तैयार, जांच की क्षमता में भी होगी बढ़ोतरी
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
चीन ने कहा- अमेरिका दोनों देशों को नए शीत युद्ध की तरफ धकेल रहा है, हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार
Image