छिन्दवाड़ा/कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये जिला स्तरीय प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न

छिंदवाडा: कोविड-19 कोरोना वायरस से ...


कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा के अध्यक्षता में आज कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये जिला स्तरीय प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में विधायक विधायक परासिया श्री सोहन वाल्मीक, विधायक सौंसर श्री विजय चौरे, विधायक जुन्नारदेव श्री सुनील उइके, विधायक अमरवाड़ा श्री कमलेश शाह, विधायक चौरई श्री सुजीत चौधरी, विधायक पांढुर्णा श्री निलेश उइके के साथ जिले के जिम्मेदार व वरिष्ठ जन श्री विवेक साहू बंटी, श्री गंगाप्रसाद तिवारी, श्री संजय श्रीवास्तव, श्री जे.पी.सिंह, श्री विजय झांजरी व श्री अरविंद राजपूत सहित पुलिस अधीक्षक श्री विवेक अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गजेंद्र सिंह नागेश, अतिरिक्त कलेक्टर श्री राजेश बाथम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री शशांक गर्ग, नगर निगम आयुक्त श्री राजेश शाही, एस.डी.एम. श्री अतुल सिंह, मेडिकल कॉलेज के डीन श्री जी.रामटेके, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री प्रदीप मोजेस, सिविल सर्जन डॉ.श्रीमती पी.गोगिया सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। 
       बैठक में जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये किये जा रहे प्रयास व चिकित्सकीय सुविधाओं के बारे में कलेक्टर डॉ.शर्मा ने विस्तार से बताया और कोरोना संक्रमण पीडितों के बारे में व उनके प्रवास हिस्ट्री, उपचार आदि के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि चूंकि एक कोरोना पेसेंट को गंभीर अवस्था में हॉस्पिटल लाया गया। इसलिये उसकी मृत्यु हो गई। शेष  तीन कोरोना पेसेंट का उपचार जारी है और उनकी स्थिति में सुधार है। जिले में सभी जगह आवश्यक दवाईयां प्रदाय की जा रही है। सर्दी, खांसी, बुखार से पीड़ित लोगों का पृथक से इलाज किया जा रहा है। जिला चिकित्सालय में 22 बेड व सिंगोड़ी में 30 बेड आईसोलेशन के है। यदि मरीज बढ़ेंगे तो उन्हें आनंद हॉस्टिपल में भी रखा जायेगा। कलेक्टर डॉ.शर्मा ने कहा कि जिले में टेस्ट किट, वेंटिलेटर, थ्री लेयर मास्क व आवश्यक दवाईयां उपलब्ध है। यदि सब कुछ ठीक रहा तो जल्दी ही छिन्दवाड़ा जिला कोरोना वायरस से मुक्त हो जायेगा। पूरा मेडिकल टीम तत्परता से काम कर रहा है। कंट्रोल रूम 24x7 घंटे चालू है। यदि कहीं से कोई शिकायत आती है तो तत्काल ब्लॉक मेडिकल आफिसर की टीम जाकर उनके स्वास्थ्य परीक्षण करते है।
      बैठक में कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम के लिये किये जा रहे प्रयासों के साथ ही लॉकडाउन की स्थिति पर व्यवहारिक कठिनाईयों पर भी चर्चा की गई और कहा गया कि फसल कटाई के लिये जहां ज्यादा जरूरत है वहां ज्यादा हार्वेस्टर भेजा जाये। इसके साथ ही पंचायतों को यह निर्देशित करने के लिये कहा गया कि वे गांव में घर-घर सेनिटाइज करें। उचित मूल्य की दुकान से राशन की सुनिश्चितता सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुये की जाये। बैठक में गेहूं उपार्जन व खरीदी केन्द्रों पर चर्चा करते हुये कपास की खरीदी चालू करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान कलेक्टर डॉ.शर्मा ने ग्रामीण क्षेत्र में बी.सी.ओ. की लेनदेन पर गड़बड़ी की शिकायत पर तत्काल संबंधित बी.सी.ओ. पर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। श्री विवेक साहू ने फसल कटाई, पशु आहार, सफाई व स्वास्थ्य कर्मी के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान, शराब के अवैध विक्रय आदि पर चर्चा किये। वहीं जुन्नारदेव विधायक श्री सुनील उइके ने जिले से बाहर गये मजदूरों की स्थिति व उनकी व्यवस्था पर चर्चा किये। पुलिस अधीक्षक श्री अग्रवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये लॉकडाउन का पालन करें। उन्होंने संक्रमण न फैले इस बात पर सभी को अपेक्षित सहयोग व गाईड लाइन का पालन करने को कहा।  


Popular posts