आत्मनिर्भर भारत : 50 लाख रेहड़ी-पटरी वालों को मिलेगा 5000 करोड़ रुपये का कर्ज


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण


जानलेवा महामारी कोरोना वायरस से पूरे देश की रफ्तार थमी हुई है। आम आदमी से लेकर अर्थव्यवस्था तक संकट के साये में है। ऐसे में लगातार नीचे जा रही अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान की शुरुआत की है। इसके तहत 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को इसकी पहली किस्त का ब्योरा दिया था और गुरुवार को वह इसकी दूसरी किस्त के बारे में बताया। 


आर्थिक पैकेज की इस दूसरी किस्त में वित्त मंत्री सीतारमण ने एलान किया कि रेहड़ी-पटरी वालों (स्ट्रीट वेंडर) को और घर में काम करने वालों को पांच हजार करोड़ रुपये का कर्ज दिया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि इससे करीब 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को फायदा पहुंचेगा। इसके तहत इन्हें दो से 10 हजार रुपये तक के कर्ज की सुविधा दी जाएगी। 


डिजिटल भुगतान को दिया जाएगा प्रोत्साहन
वित्त मंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी से स्ट्रीट वेंडर्स की आजीविका पर पड़े असर को दूर करने के लिए सरकार एक महीने के अंदर इस सुविधा को शुरू करने के लिए विशेष योजना की शुरुआत करेगी। सीतारमण ने कहा कि इसके साथ ही डिजिटल माध्यम से भुगतान को प्रोत्साहित किया जाएगा। साथ ही डिजिटल भुगतान करने वालों को आने वाले समय में अधिक राशि भी दी जा सकती है। 


 


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
एमपी में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 60 हजार बिस्तर तैयार, जांच की क्षमता में भी होगी बढ़ोतरी
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image