चीन से कारोबार को भारत-आयरलैंड आ रही अमेरिकी कंपनियों पर ट्रंप की सख्ती

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से अपने विनिर्माण कारोबार को अमेरिका लाने के बजाए भारत और आयरलैंड जैसे देशों में ले जाने की तैयारी कर रहीं अमेरिकी कंपनियों पर नए टैक्स लगाने की धमकी दी है। ट्रंप ने फॉक्स बिजनेस न्यूज के साथ चर्चा में कहा कि कंपनियों को टैक्स प्रोत्साहन दिया गया था, ताकि वे अपने विनिर्माण कारोबार को वापस अमेरिका लाएं।


ट्रंप ने कहा, ‘एपल ने कहा है कि अब वे भारत जाने वाले हैं। वे चीन से हटकर कुछ उत्पादन भारत में करने जा रहे हैं।’ ट्रंप ने आगे कहा, ‘अगर वे ऐसा करते हैं, तो आप समझ लीजिए कि हम एपल को थोड़ा सा झटका देंगे क्योंकि वे एक ऐसी कंपनी के साथ प्रतिस्पर्द्धा कर रहे हैं, जो हमारे तरफ से किए गए व्यापार सौदे का हिस्सा थी। इसलिए यह एपल के लिए थोड़ा अनुचित है, लेकिन हम अब इसकी इजाजत नहीं देंगे। 


ट्रंप ने कहा, 'अगर हम दूसरे देशों की तरह अपनी सीमाओं को बंद कर लेंगे, तो एपल अपने शत प्रतिशत उत्पादों को अमेरिका में ही बनाएगी।’ 


न्यूयार्क पोस्ट के मुताबिक एपल अपने उत्पादन के बड़े हिस्से को चीन से भारत स्थानांतरित कर रही है। चीन में घातक कोरोना वायरस महामारी के सामने आने के बाद वहां विनिर्माण करने वाली कई टेक कंपनियों की आपूर्ति शृंखला बाधित हो गईं। ट्रंप ने कहा कि वह विनिर्माण को अमेरिका में वापस लाना चाहते हैं।


उन्हें हमारे लिए करना होगा...


ट्रंप ने कहा, ‘इन कंपनियों को समझना होगा कि वे सिर्फ चीन नहीं जा रही हैं। वे भारत जा रही हैं, वे आयरलैंड जा रही हैं और वे सभी जगह जा रही हैं, वे उन्हें बनाएंगी।’ उन्होंने कहा, ‘ऐसे में प्रोत्साहनों के संदर्भ में कुछ करने की जरूरत है और मुझे यह करना होगा।’ ट्रंप ने कहा, ‘वे उत्पाद बाहर बनाते हैं तो उस पर टैक्स लगाना एक उपाय है। हमें उनके लिए ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है। उन्हें हमारे लिए करना होगा।’  


 


Popular posts
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
सितंबर तक आएगी कोरोना की वैक्सीन! जानें भारत समेत पूरी दुनिया का अपडेट।
Image
केवी में एडमिशन / केंद्रीय विद्यालय में कक्षा पहली में दाखिले की प्रक्रिया फरवरी से होगी शुरू
Image
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
शराब कारोबारियों के समूह संभालेंगे जिलों की सभी दुकानें; आबकारी नीति में बड़े संशोधन की तैयारी शुरू
Image