कोरोना:वैक्सीन से जुड़ी जानकारी चुराने के लिए ईरान और रूस ने ब्रिटेन के विश्वविद्यालयों पर शुरू किए हैकिंग हमले


ईरान और रूस पर आरोप लगे हैं कि उसने कोरोना वायरस की वैक्सीन से जुड़ी जानकारी हासिल करने के लिए ब्रिटिश संस्थानों पर साइबर हमले शुरू कर दिए हैं। इन दोनों देश पर गोपनीय डाटा को चुराने का आरोप लग रहा है। हैकर्स ने ब्रिटेन के उन विश्वविद्यालयों को निशाना बनाया है, जहां वैज्ञानिकों और डॉक्टरों की टीम इस वायरस पर रिसर्च कर रही है और इसे खत्म करने के लिए शोध कर रही है। इसके अलावा कोविड-19 के टीके और परीक्षण किट से जुड़ी जानकारी भी चुराने की कोशिश हुई है।


नेशनल साइबर सिक्योरिटी सेंटर ने हमलों को पूरी तरह से निंदनीय करार दिया और पुष्टि की कि वे ऑनलाइन वार करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे थे। जानकारी के मुताबिक जो विश्वविद्यालय और वैज्ञानिक कोरोना वायरस पर काम कर रहे हैं उनके ईमेल और सर्वर को निशाना बनाया गया है। अधिकारियों ने कहा कि इसके लिए हैकर्स लगातार प्रयास करते रहे हैं। ऐसा लगता है कि वे कोरोना वायरस की से जुड़ी जानकारी चुराने की कोशिश कर रहे हैं। अभी तक हमने इस महामारी को हराने के लिए बेहतरीन प्रयास किए हैं।


एक अलग सुरक्षा स्रोत ने कहा कि बौद्धिक संपदा की चोरी एक गंभीर अपराध है। लेकिन जाहिर है अब हमें ब्रिटेन पीएलसी और इसकी संपत्तियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। हालांकि, यह माना जा रहा है कि अब तक कोई बड़ा हमला सफल नहीं हुआ है और एनएचएस कंप्यूटर सिस्टम पर कोई हमला नहीं हुआ है।


अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा केंद्र के निदेशक, बिल इवानिना ने कहा कि अमेरिकी सरकार ने अपने सभी चिकित्सा अनुसंधान संगठनों को खतरे की चेतावनी दी है। उन्हें सावधान रहने के लिए कहा गया है। उन्होंने बीबीसी से कहा कि हम सभी अनुसंधान और उनके डेटा की सुरक्षा के लिए काम कर रहे हैं।


ब्रिटेन की सुरक्षा एजेंसी और ऑनलाइन अपराध को रोकने वाले लोगों ने ब्रिटेन के शोधकर्ताओं को शनिवार की रात एक चेतावनी जारी की है। रक्षा समिति के अध्यक्ष टोबीस एलवुड ने कहा कि ब्रिटेन को उचित रूप से प्रतिशोध लेने में संकोच नहीं करना चाहिए।  


नेशनल साइबर सिक्योरिटी सेंटर ने कहा कि हमने कोरोना वायरस से संबंधित साइबर हमलों बढ़ोतरी दर्ज की है। हमारे विशेषज्ञ सभी संगठनों की मदद करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं।


 


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
एमपी में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 60 हजार बिस्तर तैयार, जांच की क्षमता में भी होगी बढ़ोतरी
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
चीन ने कहा- अमेरिका दोनों देशों को नए शीत युद्ध की तरफ धकेल रहा है, हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार
Image