जबलपुर/नोवल कोरोना वायरस के संभावित मरीजों की जाँच व चिकित्सकीय परामर्श हेतु तीन टीम गठित

कलेक्टर भरत यादव के लिए इमेज नतीजेकलेक्टर भरत यादव ने जिले में चीन से आये हुए यात्रियों को नोवल कोरोना वायरस की बीमारी का संभावित मरीज मानकर उन्हें उचित चिकित्सकीय परामर्श देने और जाँच हेतु तहसीलदार, चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मियों की संयुक्त दल वाली तीन टीमें गठित की हैं।
      कलेक्टर द्वारा जारी आदेश के अनुसार तहसीलदार रश्मि चतुर्वेदी की अगुवाई वाले दल में डॉ. डी.एन. पाठक, डॉ. के.सी. सिंघई, डॉ. सी.के. नियोगी और ए.एन.एम. व आशा कार्यकर्त्ता में से नील मणि जैन, रत्ना बाजपेयी, छाया इमनुयल, उमा पटेल, स्मिता शुक्ला, मालती बैरागी और प्रतिभा धुर्वे शामिल हैं। इसी प्रकार दूसरी टीम में तहसीलदार प्रदीप मिश्रा, डॉ. सी.के. नियोगी, डॉ. के.सी. सिंघई, डॉ. दुर्गा मरकाम और ए.एन.एम. व आशा कार्यकर्त्ता के रूप में राखी प्रजापति, सीता नेताम, सरिता यादव, रंजना बर्मन, आरती अहिरवार, रश्मि राणा, ज्योति ठाकुर, स्मिता शुक्ला व डॉली बंसार शामिल हैं।
      इसके अलावा गठित तीसरे दल में तहसीलदार राजेश सिंह के अतिरिक्त चिकित्सकों में डॉ.एस.जे. नेलसन, डॉ. आर. बघेल, डॉ. शिल्पी जैन, डॉ. विनेता उप्पल सहित ए.एन.एम. व आशा कार्यकर्त्ता सोनू पटेल, प्रिया राजपूत, अंजना बाथरे, रोशनी साहू, व्ही. सुरेन्द्रम, ममता ठाकुर और गायत्री पुट्टा सम्मिलित हैं।
      नोवल कोरोना वायरस बीमारी के संभावित मरीज का भारत आने के दिनांक से 28 दिन तक लगातार स्वास्थ्य कर्मी द्वारा यात्री के घर जाकर प्रात: एवं शाम को नियमित रूप से जाँच करना होगा। साथ ही संबंधित और उसके परिवार वालों को उचित चिकित्सकीय परामर्श भी देना होगा।  


Popular posts