सागर में मुख्यमंत्री ने 3 हजार करोड़ रुपयों से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया

सागर में सभा को संबोधति करते मुख्यमंत्री कमलनाथ। के लिए इमेज नतीजेसागर. संत रविदास जयंती समारोह में शिरकत करने सागर पहुंचे मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि वे हर साल हिसाब देंगे कि उन्होंने सालभर में क्या-क्या काम किए। मुख्यमंत्री ने यहां 3 हजार करोड़ रुपयों से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार को अभी सिर्फ 15 महीने हुए हैं, जो भाजपा के 15 साल के कार्यकाल पर भारी पड़ रहे हैं। 




सागर में मुख्यमंत्री कमलनाथ जागृति समारोह में शामिल होने पहुंचे थे। इस अवसर पर राज्य मंत्री लखन घनघोरिया, ब्रजेंद्र सिंह राठौर, जीतू पटवारी, गोविंद सिंह राजपूत और हर्ष यादव भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने संत रविदास जयंती के मौके पर राज्य के नागरिकों को शुभकामनाएं भी दीं। उन्होंने कहा कि संत रविदास समाज सुधारक थे और उन्होंने सामाजिक कुरीतियों पर प्रहार किया। उन्होंने कहा था कि सिर्फ जन्म से व्यक्ति श्रेष्ठ नहीं होता है। अच्छे कार्यों से श्रेष्ठ होता है। स्वस्थ समाज के लिए उनके आदर्शों को अपनाना होगा। 




सागर के पीटीसी मैदान पर संत रविदास जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित जाग्रति सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नागरिकता संशोधन कानून की बात करके किसानों और नौजवानों का ध्यान मोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। मोदी ने दो करोड़ लोगों को रोजगार दिलाने और खेती के लिए लाभ का धंधा बनाने की बात कही थी लेकिन अब वे सीएए की बात करके किसानों और नौजवानों का ध्यान मोड़ने की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में किसानों द्वारा आत्महत्या करने के प्रकरण तथा बेरोजगारी बढ़ी है। देश उनकी कलाकारी को पहचान चुका है। बात कहने और देश चलाने में बड़ा अंतर होता है।


कमलनाथ ने कहा कि नीति और नीयत का परिचय देकर कांग्रेस ने शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि चौदह माह पहले प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी। सरकार की तिजौरी खाली थी। किसानों का आत्महत्या, बेरोजगारी और महिला अत्याचार के मामले में प्रदेश नंबर वन पर था। कांग्रेस सरकार को काम करने के लिए 11 माह मिले। उन्हाेंने कहा कि विपक्ष के लोग कहते थे कि कांग्रेस सरकार कैसे चलायेगी। कांग्रेस सरकार जनता से किए गए अपने सभी वादों को पूरा करेगी।
 
उन्होंने कहा कि सागर प्रेम, संस्कृति, मूल्यों की नगरी है। हम आपको निराश नहीं होने देंगे। कांग्रेस सरकार काम में विश्वास करती है। सरकार हर साल प्रदेश का हिसाब जनता को देगी, जिसमें खेती किसानी, रोजगार, पट्टामाफ का हिसाब रहेगा। कृषि क्षेत्र में पहले खेती में कम उपज चुनौती थी, अब अधिक उत्पादन चुनौती है। किसान को उपज का सही दाम मिलेगा। नौजवानों के भविष्य का निर्माण करेंगे। नौजवानों का भविष्य सुरक्षित रहेगा, तो आर्थिक गतिविधि बनेगी और निवेश भी आयेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विकास का नया इतिहास बनायेंगे।


सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश के मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि संत रविदास ने धार्मिक आध्यात्मिक सामाजिकता का संदेश दिया है। केंद्र सरकार द्वारा बनाए जा रहे माहौल से सतर्क रहने की जरूरत है। आरक्षण पर भी चोट पहुंचाने की कोशिश की जा सकती हैं। उन्होंने सागर में रविदास भवन निर्माण के लिए एक करोड़ रूपये देने की बात कही। प्रभारी मंत्री ब्रजेंद्र सिंह राठोर मंत्री हर्ष यादव, गोविंद सिंह राजपूत ने भी सम्मेलन को संबोधित किया और सागर में उद्योग, बायपास, फ्लाई ओव्हर, खाद्य प्रस्करण की यूनिट लगाये जाने की मांग रखी।


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
जबलपुर / संतों के साथ मिली सरकार, कुंभ का सपना हुआ साकार नर्मदा गौ-कुंभ: राज्य सरकार के प्रयासों को विशिष्ट संतों की मिल रही सराहना, संतों ने कहा, सरकार का ये प्रयास पूरे देश के लिये अनुकरणीय
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image