इस ‘अदृश्य दुश्मन’ ने अमेरिकी लोगों और अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका दिया है. अर्थव्यवस्था कब खोला जाए सबसे बड़ा फैसला:डोनाल्ड ट्रंप

ट्रंप प्रशासन इस समय कोरोना वायरस संकट से निपटने में लगा है.  ताजा आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार मौजूदा आर्थिक संकट की वजह से अमेरिका में 1.6 करोड़ लोगों का रोजगार छिन गया है.



वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था को कब खोला जाए, यह उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा फैसला होगा. कोविड-19 महामारी की वजह से इस समय दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था ठहर गई है. अमेरिका की 33 करोड़ की आबादी में से 95 प्रतिशत राष्ट्रीय आपात स्थिति की वजह से ‘अपने घरों में बंद’ है.


ट्रंप प्रशासन इस समय कोरोना वायरस संकट से निपटने में लगा है. इस ‘अदृश्य दुश्मन’ ने अमेरिकी लोगों और अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका दिया है. ताजा आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार मौजूदा आर्थिक संकट की वजह से अमेरिका में 1.6 करोड़ लोगों का रोजगार छिन गया है. यह बेरोजगारी का नया रिकॉर्ड है.


'कारोबारी गतिविधियों को फिर खोलने का फैसला उचित समय पर करेंगे'


अमेरिका में इस महामारी से मरने वालों की संख्या शनिवार सुबह तक 18,700 हो गई थी. देश में पांच लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से  संक्रमित हैं. वैश्विक वित्तीय राजधानी न्यूयॉर्क शहर पर कोरोना वायरस की मार सबसे अधिक पड़ी है. न्यूयॉर्क में इस महामारी से 7,800 लोगों की जान गई है और 1.7 लाख लोग इससे संक्रमित हैं.


ट्रंप ने शुक्रवार को व्हाइट हाउस के नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह देश में कारोबारी गतिविधियों को फिर खोलने का फैसला उचित  समय पर करेंगे. इससे पहले वह कोरोना वायरस पर व्हाइट हाउस के कार्यबल और अपने नजदीकी सलाहकारों से विचार-विमर्श करेंगे.


'भगवान से प्रार्थना करूंगा कि यह सही फैसला हो'


अमेरिकी राष्ट्रपति ने देश की अर्थव्यवस्था को खोलने की कोई पक्की तारीख नहीं बताई . राष्ट्रपति नियमित रूप से संवाददाता सम्मेलन के जरिये इस ‘अदृश्य दुश्मन’ से निपटने के लिए उनके प्रशासन द्वारा किए जाने वाले प्रयासों की जानकारी देते हैं.


इससे पहले ट्रंप ने ईस्टर (12 अप्रैल) पर अर्थव्यवस्था को खोलने की मंशा जताई थी. उद्योगपति से राष्ट्रपति बने ट्रंप पर वॉल स्ट्रीट के मित्र इसके लिए दबाव बना रहे थे. ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘मैं इसपर फैसला करूंगा. मैं भगवान से प्रार्थना करूंगा कि यह सही फैसला हो. लेकिन निश्चित रूप से यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा फैसला होगा.


’’मैंने अपनी जीवन में कई बड़े फैसले किए हैं


डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘‘मुझे अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा निर्णय करना होगा. मैं अभी इसके बारे में सोचना शुरू किया है. मैं कहना चाहता हूं कि मैंने अपनी जीवन में कई बड़े फैसले किए हैं. आप इसको समझते हैं. यह मेरे जीवन का सबसे बड़ा फैसला होगा. क्योंकि मुझे कहना होगा कि चलो शुरू करते हैं. हम यही करेंगे.’’ एक अन्य सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि उनके पास देश को खोलने का अधिकार है. उनसे पूछा गया था कि सभी यह देखना चाहते हैं कि आप कैसे यह निर्णय करते हैं.


ट्रंप ने कहा कि वह चाहते हैं कि उनके देश को जल्द से जल्द खोल दिया जाए. हमें अपने देश को खोलना होगा. उनसे पूछा गया कि वह किस आधार पर यह फैसला करेंगे, इस पर ट्रंप ने जवाब दिया कि इसमें वह अपने दिमाग का इस्तेमाल करेंगे.


60,000 लोगों की जान जाती है तो आप कभी खुश नहीं हो सकते


अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘यह मेरा तरीका होगा,...मैं 35 लोगों की बात सुन सकता हूं, लेकिन अंत में फैसला मुझे ही करना है. कल तक मैंने इस बारे में नहीं सोचा था. आप जानते हैं कि यह बड़ा फैसला होगा. लेकिन इसके लिए मुझे सलाह की जरूरत होगी. वे लोग मुझे सलाह देंगे. उपराष्ट्रपति से भी मैं सलाह करूंगा.’’


ट्रंप ने कहा कि अमेरिका में कोविड-19 से मृत्यु दर कुछ हद तक नियंत्रण में हैं. पहले के अनुमान कह रहे थे कि यहां 1,00,000 से 2,20,000 लोगों की जान जाएगी. उन्होंने कहा, ‘‘यकीन करना मुश्किल है. यदि 60,000 लोगों की जान जाती है तो आप कभी खुश नहीं हो सकते. लेकिन यह पहले लगाए गए अनुमान से काफी कम है.’’


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
एमपी में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 60 हजार बिस्तर तैयार, जांच की क्षमता में भी होगी बढ़ोतरी
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
चीन ने कहा- अमेरिका दोनों देशों को नए शीत युद्ध की तरफ धकेल रहा है, हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार
Image