भोपालवासियों को आपातकाल की स्थिति में आवागमन हेतु जिला प्रशासन द्वारा ई पास की सुविधा उपलब्ध 26000 से अधिक यात्रा ई-पास जारी यात्रा के दौरान आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य


भोपाल। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी भोपाल श्री तरुण पिथोड़े ने आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए आंशिक संशोधन करते हुए इन अधिकारियों के बीच विभिन्न दायित्वों का कार्य विभाजन किया है।


कोविड संक्रमण को रोकने और बचाव के दृष्टिगत लागू लॉकडाउन के दौरान भोपालवासियों को आपातकाल  की स्थिति में आवागमन हेतु जिला प्रशासन द्वारा ई पास की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। 


जिला ई-पास नोडल अधिकारी  संयुक्त कलेक्टर श्री राजीव नंदन श्रीवास्तव ने बताया 22 अप्रैल से आज दिनाँक अब तक 62 हज़ार 116  आवेदन ऑनलाइन के माध्यम से प्राप्त हुए हैं।


वहीं 26 हज़ार  50 आवेदनों को जांच उपरांत अनुमति जारी की गई है। 21 हज़ार 400 आवेदनों को दस्तावेजों के अभाव, अपूर्ण जानकारी और डुप्लीकेसी के कारण निरस्त किया गया है। वर्तमान में शेष लगभग 3500 आवेदनों को युद्ध स्तर पर रात दिन कार्य करके  निराकरण किया जा रहा है।


भोपालवासियों को ई-पास के आवेदन के दौरान आ रही समस्याओं, शंकाओं के समधान या आवेदन करने के दौरान आ रही समस्या के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रतिदिन सुबह 6 बजे से 12 बजे तक जिला रोजगार अधिकारी, श्री एस के मालवीय 9407556797, सुबह 11 बजे से 4 बजे तक खनिज अधिकारी, श्री राजेन्द्र परमार 9425435855, शाम 4 बजे से रात्रि 9 बजे तक उद्यानिकी अधिकारी, श्री बी एस कुशवाह 9425376797 पर उपलब्ध रहेंगे।


उन्होंने सभी भोपालवासियों से अपील की है कि  आवेदन केवल https://mapit.gov.in/covid-19/ पर ही करे। ई -पास आवेदन भरते समय सही जानकारी भरे। एक मोबाइल नंबर से 24 घंटे में एक ही बार आवेदन किया जा सकता है। अनुमति जारी होने के उपरान्त अनुमति का पीडीएफ ऑनलाइन डाउनलोड किया जा सकता है। जिला प्रशासन का सभी से आग्रह है कि यात्रा के दौरान सभी यात्री अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्यतः डाउनलोड करें। अपने गंतव्य स्थल पर पहुंचकर या वापस आकर जिला प्रशासन को सूचित करे और स्वहित में किसी नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराए।


अब भोपाल से ई-पास जारी कराकर अन्य जिलों की यात्रा करने वाले यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा। इस ऐप के बगैर वे यात्रा नहीं कर पाएंगे। कंटेनमेंट क्षेत्र में रह रहे निवासी, होम डिलीवरी संस्थानों में कार्यरत स्टॉफ को भी यह ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया गया है। कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने भोपाल की आम जनता से यह बात एक वीडियो जारी कर कही है। उन्होंने कहा कि भोपाल के लिए आने वाले दिनों में रेल, बस और हवाई यात्रा प्रारंभ हो सकती है। यात्रा के दौरान इस ऐप को चैक करके ही अनुमति और प्रवेश दिया जाएगा। भोपाल में मैदानी स्तर पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को नागरिकों के मोबाइल में इस ऐप को सक्रिय देखने और चेक करने के लिए निर्देश दिए गए है।


श्री राजीव नंदन श्रीवास्तव संयुक्त कलेक्टर और श्रीमती वंदना जैन डिप्टी कलेक्टर को कलेक्ट्रेट कार्य, पास एवं अन्य पास प्रणाली हेतु जिला स्तरीय नोडल अधिकारी और कोविड केसंबंध में विभिन्न राहत योजनाओं के संबंध कार्य हेतु दायित्व सौंपा गया है।


समस्त अधिकारी प्रतिदिन निर्धारित कार्यों को समय सीमा में करके पालन प्रतिवेदन कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी को प्रस्तुत करेंगे।


Popular posts
मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में मंत्री श्री कराड़ा ने प्रदेश में माफियाओं के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही से अवगत कराया
Image
जबलपुर/समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये सीएम मॉनिट से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश
Image
एमपी में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 60 हजार बिस्तर तैयार, जांच की क्षमता में भी होगी बढ़ोतरी
Image
राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने बेटियों का किया सम्मान
Image
मध्यप्रदेश/कार्यवाहक मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधीजी से मुलाक़ात कर आज ही 23 मार्च,सोमवार को दिल्ली से भोपाल लौट रहे है
Image